Saturday, May 25, 2024

​​नैपोटिज्म विवाद में नया टर्न, जानिए ऐसा क्या हुआ जो सैफ को मांगनी पड़ी माफ़ी

फ़िल्मी दुनिया:-  पिछले हफ्ते आयोजित आइफा अवार्ड्स से ​नैपोटिज्म विवाद (परिवारवाद विवाद) ने जोड़ पकड़ ली थी. इसी विवाद को बढ़ता देख सैफ अली खान ने एक पत्र जारी कर कंगना रनौत से परिवारवाद विवाद को लेकर माफ़ी मांगी है.

उन्होंने डीएनए में प्रकाशित अपने ओपन लेटर में कहा कि आइफा में परिवारवाद पर की गयी बातें मजाक थीं. उसे इतना बढ़ाने की आवश्यकता नहीं थी. मैंने कंगना से पर्सनली माफ़ी मांग ली थी. इसलिए वो बात अब वहीँ खत्म हो जानी चाहिए.

​नैपोटिज्म विवाद पर कंगना का जवाब:-

सैफ ने अपने ओपन लेटर में एक्टिंग की प्रतिभा को अनुवांशिक या जेनेटिक बताया था. इसी का जवाब देते हुए कंगना ने अपने खत में कहा कि अगर एक्टिंग की प्रतिभा जीन में होती और सैफ सही होते तो शायद आज मैं किसान होती. मुझे समझ नहीं आता कि मेरे जीन पूल से किस जीन से मुझे मेरे पसंदीदा काम करने का गुण मिला है.

क्या था मामला:-

दरअसल आपको बता दें की कुछ महीने पहले कंगना करण जौहर के चैट शो ‘ कॉफ़ी विथ करण’ पर गयी थी. चैट शो में कंगना ने फ़िल्मी जगत में चल रहे परिवारवाद का मूल कारण करण जौहर को बताया था. तभी से यह बहस सोशल मीडिया पर छायी हुई है.

(ये भी पढ़ें:- ईवीएम गड़बड़ी को लेकर अब डीएम ने किया बड़ा खुलासा !)

 

 

​नैपोटिज्म विवाद
PC- Google

(ये बी पढ़ें :- सावन स्पेशल- जानें ग्रीन कलर के अलग शेड्स और ट्रेंड्स)

इसी बहस को आगे बढ़ाते हुए करण जौहर , वरुण धवन और सैफ अली खान ने आइफा अवार्ड्स में कंगना रनौत पर तंज कसते हुए ” नैपोटिज्म जिंदाबाद” के नारे लगाये थे. साथ ही करण जौहर ने कंगना को हिदायत देते हुए कहा था कि कंगना बहुत ज्यादा बोलतीं हैं, उन्हें चुप रहना सिखना चाहिए.

इसी बात पर करण को जवाब देते हुए कंगना ने कहा कि शायद करण भूल रहें हैं कि दिलीप कुमार, बिमल रॉय, सत्यजीत रे, गुरु दत्त आदि ने अपनी प्रतिभा के कारण फ़िल्मी जगत में नाम कमाया ना कि परिवारवाद के कारण.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

15,900FansLike
2,300FollowersFollow
500SubscribersSubscribe

Latest Articles