ईवीएम गड़बड़ी
फोटो साभार:- गूगल

महाराष्ट्र:- उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद जिस तरह से ईवीएम गड़बड़ी का मामला सामने आया है तब से लेकर हाल के हुए नगर निगम चुनावों में भी इसका असर सुनने को मिल रहा है.  इसी सिलसिले में अब एक और इवीएम का मामला सामने आ रहा जिसका खुलासा एक डीएम ने किया.

पढ़िए क्या है मामला

दरअसल ये मामला महाराष्ट्र के बुलढाना जिले में हाल ही में हुए परिषदीय चुनाव के दौरान लोणार के सुल्तानपुर गांव में मतदान के दौरान ईवीएम से छेड़छाड़ की बात सामने आई. इलाके की एक निर्दलीय प्रत्याशी आशा अरुण जोरे ने इसको लेकर निर्वाचन अधिकारी को तत्काल पड़ताल के लिए कहा भी था लेकिन ईसी के तरफ से इसपर कोई एक्शन नहीं लिया गया, लेकिन जब धीरे धीरे लोगों की शिकायत को लेकर तादाद बढ़ती चली गयी तब जाके ईसी ने इस पर एक्शन लिया.

ये भी पढ़े:-

 

  • वहीँ आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने बताया कि “मतदाता जब भी एक प्रत्याशी को आवंटित चुनाव चिह्न नारियल का बटन दबाते तो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के चुनाव चिह्न कमल के सामने वाला एलईडी बल्ब जल उठता। निर्वाचन अधिकारी ने इसकी जानकारी जिलाधिकारी को दी, जिसका खुलासा आरटीआई से मिली जानकारी में हुआ।”

ये भी पढ़ें:-  मायावती के इस्तीफ़ा देने की असली वजह आया सामने, सुनकर आप भी दंग रह जायेंगे

 

गलगली ने कहा, “इस मामले से साबित हो गया कि ईवीएम में छेड़छाड़ संभव है। एक मतदाता ने पहली बार इस ओर ध्यान दिलाया, जिसके बाद कई मतदाताओं ने इसकी पुष्टि की तथा निर्वाचन अधिकारी और अन्य अधिकारियों ने शिकायत का सत्यापन कर जिलाधिकारी को रिपोर्ट भेज दी।”

ये भी पढ़ें:-  बड़ी खबर: बीजेपी के पांच नेताओं ने दिया पार्टी से इस्तीफ़ा, सियासत हुई तेज़

गौरतलब है की उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के परुनाम के बाद से ईवीएम गड़बड़ी  का मामला सामने आया था, जिसके बाद हुए कई चुनावों में ये मामला उठता आ रहा है. ईसी ने इसके लिय नये ईवीएम मशीन को भी लाया लेकिन उसके बावजूद इससे पार नहीं पाया जा रहा. बहरहाल देखना होगा अब इस मामले को लेकर ईसी क्या कदम उठाता है.