summer health tips, health tips in hindi

कोरोना संक्रमण में जहां एक ओर आंकड़ों के हिसाब से कमी आ रही है। वहीं दूसरी ओर नई बीमारियों से लोगों को सामना करना पड़ रहा है। कोविड 19 तो था ही अब ब्लैक फंगस, व्हाइट फंगस के मामले सामने आने लगे हैं। ऐसी बीमारियों से बचने के लिए लोग आयुर्वेद या देशी नुस्खों का सहारा ले रहे हैं। health samachar

फिलहाल वैक्सीन, दवाओं की कमी होने से लोग देशी दवाओं को आजमा कर अपने आप को बचाना चाह रहे हैं। कोरोना की शुरुआत से लोगों को अदरक, लहसुन, गुड़ आदि गरम चीजों के सेवन की सलह दी जा रही है। कुछ विशेषज्ञ बताते हैं कि अनावश्यक गरम करने वाली चीजों का सेवन करने से शरीर को नुकसान पहुंच सकता है। summer health tips

फोन को LOCK करके भूल गए पासवर्ड? इस तरह कर पाएंगे अनलॉक

गर्मी में अदरक का ज्यादा उपयोग कर सकता है परेशान- health samachar

अदरक के ऐसे तो बहुत फायदे हैं। सर्दी-खांसी में अदरक वाली चाय पीना आम बात है। लेकिन अगर आप इसका बार-बार और अधिक मात्रा में उपयोग कर रहे हैं तो इससे ब्लड शुगर कम होने की संभावनाएं हैं। रात में अदरक का काढ़ा पीने से बचना चाहिए। गर्मी में इसके अधिक सेवन से आपको डायरिया और पेट खराब होने की समस्या हो सकती है। इसके अलावा ये आपको गैस व सीने में जलन की समस्या भी बना सकता है।

फोन को LOCK करके भूल गए पासवर्ड? इस तरह कर पाएंगे अनलॉक

गुड़ भी गर्मियों में बन सकता है आपका दुश्मन- summer health tips

चीनी या शक्कर से ज्यादा गुड़ फायदेमंद होता है। इसमें कोई दोराय नहीं है। लेकिन गुड़ की तासीर गर्म होती है, ऐसे में गर्मियों में इसका ज्यादा उपयोग फायदेमेंद नहीं है। चाय और काढ़े आदि में इसके उपयोग से नाक में से खून निकल सकता है। इससे आपको कब्ज की समस्या भी हो सकती है।

म्यूजिक सुनना सेहत के लिए बेहद लाभदायक, जानिए क्या हैं फायदें

गरम मसालों से भी है अधिक खतरा-

बाजार में मिलने वाले पैक्ड मसालों से ज्यादा कुछ लोग गरम मसाले का उपयोग करते हैं। सब्जी हो, बिरयानी हो, गरम मसाला सबका स्वाद दोगुना कर देता है। सर्दियों में इसके सेवन से तो इम्यूनिटी भी मजबूत होती है। लेकिन सावधान, अगर गर्मियों में इसका ज्यादा प्रयोग किया तो आपको बहुत नुकसान हो सकता है। इसलिए दालचीनी, कालीमिर्च, जायफल, लौंग, लहसुन आदि का बहुत कम और स्वादानुसार उपयोग करें।

Previous articleUP CORONA: पहली बार एक दिन में पांच हजार से नीचे आए कोरोना केस, जानें कितने मामले
Next articleअब 18 से 44 साल के लोग बिना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के भी वैक्सीन लगा सकेंगे