दिल्ली:- ​पत्रकारिता के इतिहास में यह पहली घटना है जब किसी सरकार ने किसी चैनल को प्रतिबंधित किया है.

  • दरअसल सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की ओर से गठित कई मंत्रालयों के प्रतिनिधियों ने आज सुझाव दिया है कि एनडीटीवी पर एक दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए। 

    चैनल पर प्रतिबन्ध लगाने का कारण आउटलुक अंग्रेजी की वेबसाइट के अनुसार मंत्रालय प्रतिनिधियों की ​समिति ने इसलिए लिया है कि चैनल ने पठानकोट हमला मामले में देश विरोधी रिपोर्टिंग की थी।

    समिति में शामिल मंत्रालय प्रतिनिधियों के मुताबिक चैनल द्वारा की गयी रिपोर्टिंग से देश सुरक्षा और संप्रभुता खतरे में पड़ी 



    एनडीटीवी अधिकारियों ने इस बारे में कोई टिप्पणी करने से मनाही की है. चैनल 9 नवम्बर को  दिन भर प्रसारित नहीं होगा।  

    कोई जवाब दें

    Please enter your comment!
    Please enter your name here