मुलायम
PC- Google

बिहार:- पटना-बिहार की राजनीति दिन ब दिन नया आकार लेते जा रही हैं। बिहार में महागठबंधन तोड़ने के बाद नीतिश कुमार पर सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने पलटवार करते हुए दावा किया है कि नीतिश कुमार ने मुख्यमंत्री बनने के लिये उनके सामने आँसू बहाये थे।

मुलायम के कहने पर लालू ने मानी थी बात-

सपा प्रमुख ने कहा कि लालू को कभी भी नीतिश पर भरोसा नहीं था, नीतिश ने बिहार की जनता को धोखा दिया है। उन्होंने बताया  बिहार चुनाव के दौरान लालू का मत था कि चुनाव के बाद विधायकों की संख्या के आधार पर ही मुख्यमंत्री का चुनाव किया जाये। इससे साफ़ था कि लालू नीतिश से केवल गठबंधन चाहते थे। बाद में मुलायम के कहने पर ही लालू ने नीतिश को मुख्यमंत्री बनाने की माँग को स्वीकार किया।

यह हुआ था बैठक में..

8 जुन 2015 को मुलायम निवास पर एक बैठक हुई थी जिसमें लालू और नीतिश के मध्य सीटों के बटवारों को लेकर फैसला किया जाना था। गौरतलब है कि मुलायम इस बैठक की अगुवाई कर रहे थे और मुलायम ने ही नीतिश और लालू के मध्य सहमति भी कराई थी। (ये भी पढ़ें: इस रिपोर्ट के बाद नीतीश कुमार की बढ़ी मुसीबत, हो रही इस्तीफे़ की मांग…)

गठबंधन के पीछे सपा प्रमुख

जैसा कि सब जानते है 26 जुलाई को इस्तीफा देने के बाद नीतिश के ऊपर लालू के बयानी तीर रूकने का नाम नहीं ले रहे है। वे हर तरह से नीतिश को घेरते हुए नज़र आ रहे है। लेकिन लालू नीतिश के बीच में मुलायम का आना कुछ और ही संकेत करता है क्योंकि लालू मुलायम की एक रिश्तेदारी है तो वही दुसरी ओर मुलायम नीतिश की आपसी सियासी रंजिशें है। (ये भी पढ़ें:- इस रिपोर्ट के बाद नीतीश कुमार की बढ़ी मुसीबत, हो रही इस्तीफे़ की मांग…)

 

शरद से हो सकती मुलाकात

अब इस बात की भी कवायद लगाई जा रही है कि शरद यादव और सपा प्रमुख की भी मुलाकात हो सकती है। सूत्रों का कहना है कि शरद और मुलायम दोनों ही नाराज है, शरद पार्टी से नाराज है वहीं मुलायम अखिलेश से।