इलाहबाद:- ​चुनाव नजदीक आते ही हर एक पार्टी के अंदर अंदरूनी कलह भी चालू जो जाता है। मानो जैसे कोई पिटारा खुलता हो। इधर एक और खबर आ रही है, समाजवादी पार्टी के नेता जो कांग्रेस-सपा के गठबंधन को लेकर नाराजगी से दूसरी पार्टी ज्वाइन कर ली।

दरअसल समाजवादी पार्टी के साथ काफी लंबे समय से अपना सेवा दे रहे बाबा तिवारी जो मेजा सीट से चुनाव लड़तें हैं। गठबंधन की वजह से मेजा सीट कांग्रेस खेमे चली गयी है, जिस वजह से बाबा तिवारी नाराज चल रहे थे और सोमवार को पार्टी छोड़ निषाद पार्टी से मेजा सीट के लिए नामंकन किया

 

बता दें कि सपा ने मेजा से राम सेवक पटेल को मैदान में उतारा है। जिस वजह से बाबा तिवारी का आरोप था कि मेजा विधानसभा सीट से किसी बाहरी को टिकट दिया जा रहा है। पार्टी को चाहिए था कि यहां लोकल प्रत्याशी को मैदान में उतारती। 

Previous articleयूपी में भाजपा के लिए एक और बड़ी मुसीबत, ये दल छोड़ सकता है साथ!!
Next articleBJP 300+ आंकड़ें को पाने के लिए निकाले ये तीन इक्के…