भारत सरकार ने तमाम सोशल मीडिया साइट्स को फरवरी में 3 महीने के अंदर नई गाइडलाइन को लागू करने के आदेश दिए थे। जिसकी अंतिम तारीख 26 मई 2020 थी। भारत में Facebook, WhatsApp, Twitter और Instagram के करोड़ों यूजर्स हैं। इस कारण से जब मंगलवार को लोगों को इन एप्स के बंद होने के बारे में पता चला तो सब परेशान हो गए। सरकार द्वारा जारी किए गए नियमों को जिन साइट्स ने नहीं माना है उन्हें भारत में बैन करने की बात कही जा रही है। आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं-

क्या कहती है भारत सरकार की गाइडलाइन-

फरवरी के महीने में मोदी सरकार ने तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के लिए नए नियम बनाए थे। इस हिसाब से सभी कंपनियों को भारत में अपना एक फिजिकल ऑफिस बनाना अनिवार्य है। उन्हें भारत में नोडल ऑफिसर, रेसिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर नियुक्त करना होगा। इस अधिकारी को 15 दिन के अंदर सोशल मीडिया पर आई शिकायतों का निपटारा करना होगा। इस सब के अलावा सभी को अपनी मंथली सोशल मीडिया रिपोर्ट जारी करनी होगी। सभी साइट्स को ये भी बताना होगा कि उन्होंने किस पोस्ट को हटाया और क्यों हटाया।

Facebook, WhatsApp, Twitter और Instagram में से किसने मानी सरकार की बात?

भारत सरकार के नए नियमों को फिलहाल हाल ही में लॉच हुए Koo App ने ही माना है। वहीं ट्विटर ने इसे लागू करने के लिए 6 महीने का समय मांगा है। बात करें फेसबुक की तो उनका कहना है वो केंद्र सरकार के फैसले का सम्मान करते हैं। वे उनके साथ सामंजस्य बनाने के लिए सरकार से लगातार संपर्क में हैं। अब 26 मई को शाम तक इन सभी साइट्स की सारी तस्वीर साफ होने की उम्मीद की जा रही है।

सभी पर हो सकती है कार्रवाई-

नई गाइडलाइन को न मानने पर भारत सरकार तमाम सोशल मीडिया साइट्स पर कार्रवाई कर सकती है। फरवरी में जारी हुए आदेश को 25 मई को 3 माह पूरे हो गए। अभी तक बस Koo App ने ही इन नियमों को माना है। ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि सरकार इन कंपनियों के खिलाफ क्या कदम उठाती है।

2 टिप्पणी

Comments are closed.