भदोही में पीएम मोदी के भाषण की 10 अहम बातें

0
115

1- जब बुआ-बबुआ एक दूसरे के कट्टर दुश्मन थे तब उसी दौर में इस जिले का नाम संत रविदास रखा गया था, लेकिन बुआ के बबुआ ने अपने अहंकार में इस जिले के नाम से संत रविदास का नाम हटवा दिया। अब बुआ अपने उसी बबुआ के लिए वोट मांग रही हैं।

2- नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर वो भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ते हैं तो मेरे गरीब भाईयों के हक के लिए लड़ते हैं। देश के ईमानदारों के लिए एक दीवार बनकर उनकी मदद के लिए लड़ते हैं।

3- जब इन्हें सत्ता मिलती है, ये उत्तर प्रदेश को एंबुलेंस घोटाला, NRHM घोटाला देते हैं। जब हमें सेवा का मौका मिलता है तो हम आयुष्मान भारत शुरू करते हैं, जन औषधि स्टोर खोलते हैं।

4- मोदी ने कहा कि हमारे देश में आजादी के बाद 4 तरह के राजनीतिक कल्चर चले – पहला नामपंथी, दूसरा वामपंथी, तीसरा दाम और दमनपंथी, चौथा हम लाये हैं विकासपंथी। जब सिर्फ अपना और अपने परिवार का नहीं बल्कि देश का विकास करने की इच्छाशक्ति के साथ सरकारें चलाई जाती है, तो इसी तरह का परिवर्तन आता है।

5- मोदी ने जनता से पूछा कि महामिलावटी दलों पर आपको गुस्सा आता है। मसूद अजहर को वैश्विक आतमकी घोषित होना भारत की बड़ी जीत है। लेकिन विपक्ष इसे चुनावी चश्मे से देख रहा है।

6- पीएम मोदी ने कहा कि हमारे इतने पराक्रम हुए, लेकिन किसी देश ने हमारा विरोध किया क्या? किसी देश ने भारत पर कोई प्रतिबन्ध लगाया क्या़? जब आप सही नीयत और नीति से लोगों के हितों में काम करते हैं तो नामुमकिन भी मुमकिन है। ये भारत की बढ़ती ताकत का ही तो असर है, लेकिन मोदी महामिलावट का क्या करे, जो भारत की इस कामयाबी को मानने को ही तैयार नहीं हैं।

7- पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे देश में अगर कोई आतंकी हमला होता है तो आपको दुख होता है। हमला कश्मीर में हो तो आंसू भदोही में निकलते हैं। जबकि दिल कन्याकुमारी का रोता है। हर किसी को दर्द होता है।

8- गुजरात जैसे समृद्ध राज्य का मुख्यमंत्री रहा हूं पांच साल देश का प्रधानसेवक रहा हूं। मेरी संपत्ति की कोई चर्चा नहीं हो रही है। पूरे रिश्तेदार रातों रात मालामाल हो जाते हैं। यह पैसे गरीब व ईमानदारों के होते हैं।

9- अगर भ्रष्टाचार के खिलाफ लडता हूं तो देश के ईमानदारों के लिए खडा होता हूं। आप नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद क्यों दे रहे हैं। देश ईमानदारी और समर्पण की तलाश में था मोदी ने उस भावना को समझा है। उनको परेशानी यही है, मोदी को कुछ नहीं होगा।

10- दुनिया में तीन तलाक की परंपरा मुस्लिम देशों में नहीं है मुस्लिम देशों में नहीं होता है। हम भी देश की बहनों को वही अधिकार देना चाहते हैं। हम किसी की भी धार्मिक भावना का अनादर नहीं करते। कांग्रेस और साथी उनको डर के साए में करना चाहते हैं। ऐसे लोगों को सफल नहीं होने दूंगा